Science Magazine and E-Paper is the best way to stay updated with recent Science and Technology (S&T) developments. Science Magazines and E-Paper are published on weekly, monthly or yearly basis. It contains all the developments and advancements which took place during that duration in the field of Science and Technology (S&T)


विज्ञान व प्रौद्योगिकी पत्र/पत्रिकाओं से (50)

RSS Feeds : RSS NEWS Feed - Gadgets360 Hindi

Lunar Eclipse November 2020: साल के चौथे और आखिरी चंद्रग्रहण को ऐसे देखें लाइव

चंद्रग्रहण आज दोपहर 1:02 बजे (आईएसटी) पर शुरू होगा और दोपहर 3:12 बजे (आईएसटी) पर अपने चरम पर होगा। यह चार घंटे और 21 मिनट तक चलेगा और शाम 5:23 बजे समाप्त होगा।...

Blue Moon 2020: कल दिखेगा नीला चांद, इसके बाद 19 साल बाद

NASA ने अपने ब्लॉग में समझाया है कि Blue Moon हर ढ़ाई साल में दिखाई देता है। साल 2020 के बाद यह ब्लू मून अगस्त 2023 में, मई 2026 में और दिसंबर 2028 में दिखाई देगा।...

Chandra Grahan 2020: भारत में 5 जून को दिखाई देगा Lunar Eclipse, घर बैठे यहां देखे लाइव

पेनुम्ब्रल चंद्रग्रहण 5 जून को रात 11:15 बजे शुरू होगा और 6 जून को सुबह 2:34 बजे तक चलेगा, जो लगभग तीन घंटे और 18 मिनट का है। यह भारत समेत पूर्वी अफ्रीका, मध्य पूर्व, दक्षिणी एशिया और ऑस्ट्रेलिया से दिखाई देगा।...

Lunar Eclipse June 2020: भारत में अगला चंद्रग्रहण कब और कितने बजे होगा, घर बैठे देख सकेंगे लाइव

पृथ्वी का बड़ा हिस्सा जून के चंद्रग्रहण (Lunar Eclipse 2020) को देखने में सक्षम होगा। यह भारत समेत यूरोप के अधिकांश भाग, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा।...

Super Flower Moon 2020: 7 मई को दिखेगा सुपर फ्लॉवर मून, भारत में यहां देख सकते हैं लाइव

Slooh और Virtual Telescope सहित लोकप्रिय यूट्यूब चैनल Supermoon की लाइवस्ट्रीम की मेजबानी करने के लिए जाने जाते हैं। आने वाले दिनों में उनके YouTube चैनल पर एक लाइव लिंक ज़रूर होना चाहिए।...

कम खर्च में COVID-19 टेस्ट, IIT दिल्ली के तरीके को ICMR की मंजूरी

IIT दिल्ली ने COVID-19 बीमारी की जांच करने के लिए एक नया तरीका खोज निकाला है, जो कि चीनी डिवाइस से ज्यादा सस्ता और विश्वसनीय साबित हुआ है।...

Super Pink Moon 2020: 8 अप्रैल को दिखेगा सुपरमून, भारत में यहां देख सकते हैं लाइव

दुर्भाग्य से भारत में लोग Supermoon की घटना को नहीं देख पाएंगे, क्योंकि उस समय यहां सुबह के 8 बज रहे होंगे और रोशनी ज्यादा होगी। हालांकि, देश में सुपरमून देखने के इच्छुक लोग इस इवेंट को ऑनलाइन लाइव देख सकते हैं।...

Lunar Eclipse 2020: 10 जनवरी को लगेगा साल का पहला Chandra Grahan, जानें सबकुछ...

इस बार Chandra Grahan 10 जनवरी यानी शुक्रवार को लगेगा। भारत में चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को रात 10 बजकर 37 मिनट पर शुरू होकर 11 जनवरी को 2 बजकर 42 मिनट तक लगा रहेगा।...

Surya Grahan 2019: साल के आखिरी सूर्य ग्रहण के बारे में जानें सबकुछ...

Solar Eclipse of December 26, 2019 in India: सूर्य और पृथ्वी के बीच में चंद्रमा के आ जाने से सूर्य का प्रकाश जब पृथ्वी पर नहीं पहुंच पाता है तो इस स्थिति को सूर्य ग्रहण कहते हैं। लेकिन वलयाकार सूर्यग्रहण तब लगता है जब चांद सामान्य की तुलना में धरती से दूर हो जाता है।...

ISRO ने लॉन्च किया RISAT-2BR1 सैटेलाइट, सरहदों पर रखेगा नज़र

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) ने इस एडवांस रडार इमेजिंग अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट का वजन लगभग 628 किलोग्राम बताया है।...

Chandra Grahan 2019: इस अनोखे खगोलीय घटना से जुड़ी हर बातें

आंशिक Chandra Grahan 2019 भारत के हर हिस्से से देखा जा सकेगा। पश्चिमी और मध्य इलाकों में रहने वाले सभी भारतीय इस अनोखे खगोलीय के गवाह बन पाएंगे।...

Surya Grahan (Solar Eclipse) 2019: आज, कहां, समय, और जानें सब-कुछ

Surya Grahan 2019 में चंद्रमा की छाया अर्जेंटीना और चीली के कुछ क्षेत्रों में दिखाई देगी। आसपास के देशों के लोग आंशिक सूर्य ग्रहण ही देख पाएंगे।...

15 साल में पहली बार इतने करीब होंगे धरती और मंगल ग्रह, आप देख पाएंगे लाइव स्ट्रीम

31 जुलाई 2018 की रात को मंगल ग्रह पृथ्वी के बेहद करीब होगा। देखा जाए तो बीते 15 साल में दोनों ग्रह इतने करीब कभी नहीं आए। धरती के एक तरफ मंगल ग्रह होगा और दूसरी तरफ सूरज।...

Chandra Grahan है आज, आप यहां देख पाएंगे Lunar Eclipse 2018 का लाइव स्ट्रीम

शुक्रवार देर रात आपका एक और अनोखे खगोलीय घटना से सामना होगा। हम बात कर रहे हैं चंद्र ग्रहण की। Lunar Eclipse 2018 आज रात होगा।...

GSLV-Mk III रॉकेट अंतरिक्ष के लिए रवाना, साथ में है GSAT-19 संचार उपग्रह

भारत ने सोमवार को अपने सबसे वजनी जीएसएलवी मार्क-3 रॉकेट को श्रीहरिकोटा से अंतरिक्ष के लिए छोड़ा। जीएसएलवी मार्क-3 अपने साथ 3,136 किलोग्राम वजनी संचार उपग्रह लेकर गया है, जिसे वह कक्षा में स्थापित करेगा।...

ISRO आज लॉन्च करेगा सबसे भारी रॉकेट GSLV MK 3D1

भारत के सबसे भारी रॉकेट जीएसएलवी एमके थ्री का श्रीहरिकोटा के अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपण के लिए 25 घंटे से अधिक की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। ISRO का यह रॉकेट संचार उपग्रह जीसैट-19 को लेकर जाएगा। जीएसएलवी एमके थ्री-डी 1 रॉकेट को सोमवार शाम 5 बजकर 28 मिनट पर यहां से तकरीबन 120 किलोमीटर दूर सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के दूसरे लांच पैड से उड़ान भरना है।...

इसरो ने किया सार्क सेटेलाइट का सफल प्रक्षेपण

दक्षिण एशिया उपग्रह (सार्क) या जीसैट-9 को जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (जीएसएलवी-एफ09) रॉकेट के जरिये शुक्रवार शाम प्रक्षेपित किया गया।...

इसरो ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, अंतरिक्ष में एक साथ भेजे 104 उपग्रह

इसरो (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) ने मेगा मिशन लॉन्च कर विश्व रिकॉर्ड बना दिया है। बुधवार सुबह चेन्नई से करीब 125 किलोमीटर दूर श्री हरिकोटा से इसरो ने एक रॉकेट से 104 उपग्रह प्रक्षेपित किए। भारत के लिए यह एक ऐतिहासिक क्षण है।...

एक ही साथ 103 विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा इसरो

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन फरवरी के पहले हफ्ते में अपने प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-सी37 का इस्तेमाल कर रिकॉर्ड 103 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा...

इसरो बनाएगा विश्व रिकॉर्ड, एक रॉकेट के साथ 83 उपग्रह भेजने की है योजना

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो का इरादा नए साल की शुरुआत में एक रॉकेट से 83 उपग्रहों को कक्षा में पहुंचाकर विश्व रिकॉर्ड बनाने का है। एंट्रिक्स कॉरपोरेशन के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी।...

इसरो ने किया संचार उपग्रह जीसैट-18 का सफल प्रक्षेपण

भारत के संचार उपग्रह जीसैट-18 का गुरुवार तड़के सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया गया। इसे फ्रेंच गुयाना के कारू से प्रक्षेपित किया गया। इसे फ्रांस की कंपनी 'एरियनस्पेस' के एरियन 5 के प्रक्षेपण यान से प्रक्षेपित किया गया।...

इसरो ने सफलतापूर्वक लॉन्च किया पीएसएलवी सी-35, आठ उपग्रहों को लेकर रवाना

महासागर और मौसम के अध्ययन के लिए तैयार किये गये स्कैटसैट-1 (एससीएटीएएटी-1) और सात अन्य उपग्रहों को लेकर पीएसएलवी सी-35 ने आज सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरी। स्कैटसैट-1 से इतर सात उपग्रहों में अमेरिका और कनाडा के उपग्रह भी शामिल हैं।...

इसरो ने स्क्रैमजेट इंजन का सफल परीक्षण किया

भारत ने रविवार सुबह एक रॉकेट प्रक्षेपण के साथ स्वदेशी तकनीक से निर्मित स्क्रैमजेट इंजन का सफल परीक्षण किया।...

नासा ने रचा इतिहास, बृहस्पति पहुंचा जूनो अंतरिक्षयान

नासा के मानवरहित अंतरिक्षयान जूनो ने बृहस्पति की कक्षा में घूमना शुरू कर दिया है। सौरमंडल के सबसे बड़े ग्रह की उत्पत्ति का रहस्य सुलझाने के लिए शुरू किए गए 1.1 अरब डॉलर के इस मिशन की यह एक प्रमुख उपलब्धि है।...

इसरो ने बनाया नया रिकॉर्ड, एक बार में लॉन्च किए 20 उपग्रह

काटरेसैट-2 श्रृंखला और 19 अन्य उपग्रहों का प्रक्षेपण बुधवार सुबह 9.25 बजे भारतीय रॉकेट ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी-सी) से आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा स्थित रॉकेट पोर्ट से किया गया।...

भारत के प्रथम स्वदेशी अंतरिक्ष यान आरएलवी का सफल प्रक्षेपण

भारत ने सोमवार को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से अपना प्रथम स्वदेशी दोबारा इस्तेमाल किए जाने वाले प्रक्षेपण यान (आरएलवी) को सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया।...

अपना नेविगेशन सिस्टम पाने के करीब पहुंचा भारत, लॉन्च हुआ IRNSS-1G

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से गुरुवार को देश का सातवां और अंतिम नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस- 1जी सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया।...

इसरो 28 अप्रैल को लॉन्च करेगा अंतिम नौवहन उपग्रह

पृथ्वी की कक्षा में भारत का सातवां और अंतिम नौवहन उपग्रह 28 अप्रैल को छोड़ा जाएगा। इसके बाद भारत का संपूर्ण उपग्रह नौवहन प्रणाली तैयार हो जाएगा। अंतरिक्ष एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।...

उत्पाद ही नहीं पैकेजिंग भी होगी स्मार्ट, इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन तकनीक की हुई खोज

डिजिटल कहे जाने वाले इस युग में अब जल्द ही तकनीक का एक नया और अनोखा नजारा देखने को मिलेगा। भविष्य में उत्पादों की साधारण पैकेजिंग में इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन का उपयोग किया जाएगा, जो आपको उत्पाद से संबंधित सभी महत्वपूर्ण सूचना मुहैया कराएगी।...

थोड़ी सी अमेरिकी मदद के साथ चंद्रयान-2 पूरी तरह देशज अभियान होगा: इसरो

भारत ने चंद्रयान-2 की अपनी महत्वाकांक्षी परियोजना में ‘एकला चलो’ का रूख अपनाते हुए रूस के साथ कोई रिश्ता नहीं रखने का फैसला किया है और इस तरह अमेरिका की ‘‘थोड़ी’’ सी मदद के साथ यह एक देशज परियोजना होगी।...

डोमिनोज ने पेश किया दुनिया का पहला पिज्जा डिलीवरी रोबोट

ऑस्ट्रेलिया की पिज्जा कंपनी 'डोमिनोज' ने दुनिया का पहला पिज्जा डिलिवरी रोबोट पेश किया है। इस रोबोट का नाम 'डोमिनोज रोबोटिक यूनिट' (डीआरयू) है।...

इसरो के किया छठे नौवहन उपग्रह का सफल प्रक्षेपण

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने छठे नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस-1एफ का गुरुवार शाम एक भारतीय रॉकेट के माध्यम से सफल प्रक्षेपण किया।...

नासा ने दी कम शोर वाले सुपरसोनिक यात्री विमान को मंजूरी

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने आखिरकार कम आवाज पैदा करनेवाले सुपरसोनिक यात्री विमान के प्रारंभिक बनावट को मंजूरी दे दी, ताकि लोग अविश्वसनीय रफ्तार से उड़ान भर सकें।...

सच साबित हुई आइंस्टीन की भविष्यवाणी, वैज्ञानिकों ने गुरुत्वीय तरंगों की खोज की

अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में उस समय खुशी की लहर पैदा हो गई, जब वैज्ञानिकों ने यह घोषणा की कि उन्होंने अंतत: उन गुरुत्वीय तरंगों की खोज कर ली है, जिसकी भविष्यवाणी आइंस्टीन ने एक सदी पहले ही कर दी थी।...

अपना GPS पाने के करीब पहुंचा भारत, IRNSS-1E नेविगेशन सेटलाइट लॉन्च

भारत ने बुधवार को श्रीहरिकोटा स्थित अंतरिक्ष केंद्र से अपने पांचवें नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस-1ई का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया।...

इस साल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर मार्क ज़करबर्ग देंगे ध्यान

फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क ज़करबर्ग आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) पर विशेष जोर देना चाह रहे हैं।...

'मार्स ऑरबिटर मिशन' का हिंदी एटलस सरकार ने किया रिलीज

केंद्र सरकार ने आज कहा कि हिंदी भाषा की मदद से अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में भारत की उपलब्धियों को देशभर में प्रसारित किया जा सकता है। इस मौके पर केंद्र सरकार ने पहली हिंदी एटलस किताब को भी रिलीज़ किया जिसमें ''मिशन मार्स'' का ज़िक्र है।...

मंगल ग्रह पर पानी मौजूद, नासा ने किया खुलासा

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक चौंकानेवाला खुलासा किया है। एजेंसी के यान ने मंगल ग्रह पर खारे पानी के मौसमी प्रवाह के पुख्ता सबूत इकट्ठा किए हैं। वैज्ञानिकों ने सोमवार को यह जानकारी दी।...

मिल गया पृथ्वी जैसा दूसरा ग्रह और सूरज का 'भाई'

दूसरी दुनिया की खोज में लगे अंतरिक्ष वैज्ञानिकों को एक महत्वपूर्ण सफलता मिली है। वैज्ञानिकों ने धरती की ही तरह दिखने वाले एक नए ग्रह की खोज की है। ये ग्रह G2 नाम के सितारे की परिक्रमा कर रहा है और इन दोनों के बीच भी उतनी ही दूरी है, जितनी पृथ्वी और सूर्य के बीच। G2 सूर्य की तरह ही एक सितारा है।...

16 लाख किलोमीटर की दूरी से ली गई पृथ्वी की यह 'शानदार' तस्वीर

डीप स्पेस क्लाइमेट ऑब्जर्वेटरी (DSCOVR) उपग्रह पर लगे NASA के एक कैमरे ने अंतरिक्ष से 16 लाख किलोमीटर की दूरी से पृथ्वी की एक रोचक तस्वीर खीची है।...

आ रहा है वायरलेस चार्जर, बिना प्लग इन किए चार्ज होंगे फोन

अपना फोन और लैपटॉप चार्ज करने के लिए अब आपको सॉकेट ढूंढने की जरूरत नहीं होगी। शोधकर्ताओं ने एक वायरलेस पावर ट्रांसफर तकनीक विकसित की है, जो कि एक सीमित दूरी से आपके फोन को चार्ज कर सकती है।...

अब स्मार्टफोन बनेंगे नेत्रहीनों की 'आंख'

वैज्ञानिक ऐसी मोबाइल टेक्नोलॉजी डेवलप कर रहे हैं, जिसके सहारे नेत्रहीन लोग अपने स्मार्टफोन और टैबलेट के जरिए आसपास देख पाएंगे। ब्रिटेन स्थित लिंकलोन यूनिवर्सिटी में काम कर रहे कंप्यूटर विज़न और मशीन लर्निंग के विशेषज्ञों इस तकनीक पर काम कर रहे हैं।...

विज्ञान-टेक्नॉलॉजी - BBC News हिंदी

महिलाएं जिनकी 25 साल पहले जबरन नसबंदी की गई, अब कोर्ट में पहली बार होगी सुनवाई

जनसंख्या नियंत्रण के नाम पर जबरन बांझ बना दी गई इन महिलाओं से कहा गया था कि वे अब कभी एक जानवर की तरह बच्चे पैदा नहीं कर पाएंगी....

योगी आदित्यनाथ ने बंगाल पहुँचकर ममता सरकार पर किया हमला

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर राज्य में अराजकता फैलाने का आरोप लगाया है....

Current Science News Hindi, Latest Tech Headlines Hindi, ज्ञान-विज्ञान की खबरें, Science & Technology News

Meteorite: स्टडी में बड़ा खुलासा! स्वीडन में पहली बार गिरा उल्कापिंड, वैज्ञानिकों को मिली ये कीमती धातु

स्वीडिश म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री (Swedish Museum of Natural History) के मुताबिक इस ढेलेदार उल्कापिंड (Meteorite) का आकार पाव रोटी की तरह है. इसका वजन 31 पाउंड (14 किलोग्राम) है. आपको बता दें कि ये पहले एक बड़े स्पेस रॉक का हिस्सा था. वैज्ञानिकों के अनुसार ये जिस पत्थर से टूटकर गिरा है, उसका वजन लगभग 9 टन था. और इसने 7 नवम्बर को उपासला के ऊपर आसमानी रोशनी की थी.   ...

Indonesia Volcano Sinabung: तस्वीरों में देखें माउंट सिनाबंग ज्वालामुखी की भयवाहता, 5KM ऊपर गया गुबार

नई दिल्ली: इंडोनेशिया (Indonesia) का सबसे खतरनाक ज्वालामुखी माउंट सिनाबंग (Volcano Mount Sinabung) एक बार फिर फट पड़ा. सात महीने बाद हुए इस विस्फोट में निकला राख का गुब्बार आसमान में पांच किलोमीटर की ऊंचाई तक गया. इंडोनेशिया के वॉल्कैनोलॉजी सेंटर (Vulcanology Center of Indonesia) के मुताबिक पिछले साल अगस्त महीने के बाद यह पहला इतना बड़ा विस्फोट है. इस विस्फोट की तस्वीरें आपको इसके भयावहता का प्रमाण देंगी. पढ़ें पूरी खबर.   ...

NASA Mars Perseverance Rover: लंदन के 1 Bhk फ्लैट से Mars Mission कंट्रोल कर रहे हैं भारतीय मूल के वैज्ञानिक Sanjeev Gupta

NASA Mars Perseverance Rover:  55 साल के प्रोफेसर संजीव गुप्‍ता भारतीय मूल के ब्रिटिश भूविज्ञान हैं. वह लंदन इंपीरियल कॉलेज में भूविज्ञान के विशेषज्ञ भी हैं. फिलहाल वे नासा के मंगल ग्रह के इस अभियान से जुड़े हैं. गौरतलब है कि वो इस प्रोजेक्‍ट के उन वैज्ञानिकों में भी एक हैं जो 2027 में मंगल ग्रह से सैंपल लाने के लिए इस अभियान का हिस्‍सा हैं. ...

Red Sprites And Blue Jets: इस देश में अचानक बदला आसमान का रंग, दिखी ये दुर्लभ खगोलीय आकृति

इस तस्वीर को ध्यान से देखने पर बाईं तरह जेमिनी टेलिस्कोप (Gemini Telescope) दिखाई देगा. और इसके पीछे की तरफ रात में जगमगाता हुआ मॉनाकिया शहर. और फिर दिखेगी इस शहर के ठीक ऊपर दाईं तरफ बादलों के बीच चमकती हुई बिजली की रोशनी. उसके ठीक ऊपर नीले रंग का जेट और जिसके ऊपर लाल रंग का स्प्राइट दिखाई देगा. ...

European Space Agency: 13 साल बाद यूरोपियन स्पेस एजेंसी ने निकाली एस्ट्रोनॉट्स की वैकेंसी, दिव्यांगों को भी मौका, जानें पात्रता

13 साल बाद यूरोपियन स्पेस एजेंसी (ESA) अंतरिक्ष यात्रियों की खोज कर रहा है. साल 2008 के बाद अब पहली बार यूरोपियन स्पेस एजेंसी नए एस्ट्रोनॉट्स खोज में है. दरअसल यूरोप के पुराने एस्ट्रोनॉट्स की उम्र ज्यादा हो चुकी है. इसलिए ESA अंतरिक्ष मिशन में खुद को स्थापित करने की ख्वाहिश रखने वाले युवाओं से आवेदन मंगवा रही है. जानें पूरी डिटेल.  ...

Weird Reptiles Liolaemus Tacnae: इस छिपकली ने तोड़े वर्ल्ड रिकॉर्ड, 17,716 फीट की ऊंचाई पर रहने वाली Reptile

दुनिया में सबसे ऊंचाई पर रहने वाली इस छिपकली का नाम है लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tacnae lizard ). हर्पेटोजोआ (Herpertozoa) नामक मैगजीन में रिपोर्ट के मुताबिक, लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) पेरू के एंडीज पर्वतों पर 17,716 फीट की ऊंचाई पर पाया गया. इस ऊंचाई पर तापमान में अंतर, तेज अल्ट्रवायलेट किरणें (Ultraviolet Rays) और कम ऑक्सीजन की समस्या बहुत ज्यादा होती है, इसके बावजूद ये छिपकली इतनी ऊंचाई पर रह रही है.  ...

James Webb Space Telescope: NASA का वेब टेलीस्कोप बदल देगा तारों की जानकारी, सुलझेंगे ब्रह्मांड के कई रहस्य

James Webb Space Telescope: नासा (NASA) का जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप (James Webb Space Telescope) पिछले स्पेस टेलीस्कोप से बहुत उन्नत और शक्तिशाली है. इससे वैज्ञानिक ब्रह्मांड (Universe) के कई रहस्य सुलझा सकेंगे. जानिए इसके बारे में सबकुछ.  ...

Sarbans Kaur Robot: जालंधर के टीचर हरजीत सिंह ने बनाया पंजाबी बोलने और समझने वाला रोबोट, जानें क्यों है खास

हरजीत सिंह (Harpreet Singh) ने पंजाबी बोलने व समझने वाला दुनिया का पहला रोबोट बनाया है. जिसका नाम 'सरबंस कौर' रखा गया है. इस रोबोट को बनाने में करीब 50 हजार रुपए खर्च हुए. जालंधर के गांव रोहजड़ी (Rohjari, Jalandhar) स्थित सरकारी हाईस्कूल के अध्यापक ने इसे 7 महीने में तैयार किया है. ...

National Science Day 2021: विज्ञान दिवस आज! ISRO ने भारत रत्न C.V. Raman के इस दिन को फिर बनाया यादगार

आज के इस ऐतिहासिक दिन इसरो (ISRO) ने 2021 के अपने पहले अंतरिक्ष अभियान का सफल परीक्षण किया. इस अभियान की सबसे बड़ी खासियत है कि इसमें श्रीमद्भगवद्गीता और नरेंद्र मोदी की तस्वीर को अंतरिक्ष में भेजा गया है. इसका मतलब है कि अब स्पेस में भी गीता सार गूंजेगा.  ...

PSLV-C51/Amazonia-1: ISRO ने रचा इतिहास! 19 satellite के साथ SLV-C51 की सफल उड़ान, स्पेस में गूंजेगा गीता का संदेश

ISRO ने आज इस साल का पहला अंतरिक्ष मिशन सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया. इसरो ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र श्रीहरिकोटा से ब्राजील के अमोनिया-1 (PSLV-C51/Amazonia-1) और 18 अन्य उपग्रहों को ले जाने वाले PSLV-C51 रॉकेट को लॉन्च किया. ...

Parker Solar Probe: NASA का कमाल! ढके-छिपे शुक्र ग्रह की ली तस्वीर, दुनिया भर के वैज्ञानिक हुए हैरान

नासा (NASA) के पार्कर सोलर प्रोब (Parker Solar Probe) ने हाल ही में शुक्र ग्रह (Venus) के उस छिपे हुए हिस्से की तस्वीर (Image) ली है जो आमतौर पर दिखाई नहीं देता, लेकिन ये तस्वीर वैज्ञानिकों की उम्मीद से कहीं ज्यादा साफ सुथरी निकली. पढिए क्या कहती है तस्वीर.  ...

Mars Perseverance Rover: मंगल ग्रह पर कहां गिरे Mars Rover के हिस्से? NASA ने जारी की 360 डिग्री पैनोरमा तस्वीर

नई दिल्ली: NASA ने 18 फरवरी को मंगल ग्रह पर पर्सिवियरेंस रोवर (Panorama Photo Of Mars Perseverance Rover) की लैंडिंग कराई. लाल ग्रह पर लैंडिंग के दौरान कहीं पर रोवर का पैराशूट गिरा, कहीं हील शील्ड गिरी और कहीं रोवर लैंड किया. लेकिन अब तक लोगों ने बस रोवर की तस्वीरें देखीं. लेकिन आज आपको बता रहे हैं कि इस रोवर के बाकी हिस्से मंगल ग्रह पर कहां हैं. यूरोपीय स्पेस एजेंसी ESA के स्पेसक्राफ्ट ExoMars Orbiter ने लाल ग्रह की लैंडिंग साइट की एक तस्वीर ली, जिसमें ये हिस्से साफ तौर पर दिखाई दे रहे हैं.    ...

PSLV-C51/Amazonia-1 मिशन लॉन्‍च के लिए काउंटडाउन शुरू, ISRO ने दी ये बड़ी जानकारी

PSLV-C51/Amazonia-1 मिशन के लिए काउंटडाउन आज सुबह आठ बजकर 54 मिनट पर शुरू हुआ. पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला डेडिकेटेड कमर्शियल मिशन है.  ...

NASA DART Mission: NASA ने धरती को एस्टेरॉयड के हमले से बचाने वाले मिशन को टाला, जानें कब शुरू होगा Mission

नासा (NASA) ने धरती को एस्टेरॉयड्स से बचाने के लिए द डबल एस्टेरॉयड रीडायरेक्शन टेस्ट (Double Asteroid Redirection Test- DART) आगे बढ़ा दिया है. इस मिशन की मदद से नासा धरती के नजदीक घूम रहे बाइनरी एस्टेरॉयड सिस्टम डिडिमोस (Didymos) से अपने अंतरिक्ष यान टकराने की तैयारी कर रहा है. ...

Mars Perseverance Rover Secret Code: मंगल पर गए पैराशूट में छिपा था NASA का मैसेज, जानिए क्या है वो सीक्रेट कोड

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA ने मंगल ग्रह (Mars) पर अपना रोवर उतारने के लिए जिस पैराशूट का उपयोग किया था, उसमें एक सीक्रेट कोड (Secret Code) था. इस सीक्रेट मैसेज के बारे में NASA की मार्स टीम के बस 6 सदस्य ही जानते थे. ...

Locust Attack: वैज्ञानिकों का Locust Business बना किसानों के लिए वरदान, 1kg टिड्डी के बदले मिलेंगे इतने रुपये

नई दिल्ली: अफ्रीकी देश केन्या (Kenya) में टिड्डियों का भयानक हमला (Locust Attack) हुआ है. पहले तो इससे वहां के किसान बेहद दुखी हुए लेकिन अब वो इन टिड्डियों के आने से खुश हैं. क्योंकि एक वैज्ञानिक संस्था (The Bug Picture Is Paying Farmers For Locusts) किसानों को इन टिड्डियों के बदले पैसे दे रही है. या ऐसे कहें यहां टिड्डियां किलो में बेची जा रही है.  ...

Uttam AESA Radar: स्वदेशी 'उत्तम' रडार से और ज्यादा ताकतवर होगा Tejas Fighter Jet, 100 टारगेट पर एक साथ नजर

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) में शामिल होने जा रहे 123 तेजस फाइटर जेट्स में से 51 फीसदी विमानों में उत्तम एक्टिव इलेक्ट्रॉनिकली स्कैन्ड ऐरे (Active Electronically Scanned Array - AESA) रडार लगाया जाएगा. उत्तम रडार इतना ताकतवर है कि वह एक साथ 100 टारगेट्स पर नजर रख सकेगा. ...

VL- SRSAM Missile: इस स्वदेशी मिसाइल से बढ़ेगी भारतीय सेना की ताकत, DRDO ने किया 'Surface To Air Missile' का सफल परीक्षण

शॉर्ट रेंज सरफेस-टू-एयर मिसाइल (VL-SRSAM) पूरी तरह से स्वदेशी मिसाइल है. इसे भारतीय नौसेना के लिए बनाया गया है ताकि भारतीय नौसेना आसमानी हमलों का मुंहतोड़ जवाब दे सके. इस मिसाइल का परीक्षण (Successfully Tests Surface To Air Missile) कम से कम और अधिकतम रेंज के लिए किया गया था. ...

NASA Perseverance Rover Landing Video: मंगल से NASA के रोवर ने भेजा पहला वीडियो, देखें लाल ग्रह का अद्भुत नजारा

रिकॉर्ड 25 कैमरे वाले पर्सीवरेंस रोवर (Perseverance Rover) ने लाल ग्रह की उबड़ खाबड़ जमीन को अलग-अलग एंगल से कैद (NASA Mars Perseverance Rover Landing Video) किया है. बता दें कि नासा का पर्सीवरेंस रोवर मंगल ग्रह पर कार्बनडाईआक्साइड से ऑक्सीजन बनाने का काम करेगा और मंगल ग्रह पर पानी की खोज करेगा. ...

Einsteinium Element: आइंस्टाइन से जुड़े रहस्यमयी तत्व का आखिरकार खुल गया राज, जानिए क्या है ये नया Element

1 नवंबर साल 1952 को प्रशांत महासागर (Pacific Ocean) में पहला हाइड्रोजन बम विस्फोट किया गया था. दरअसल ये विस्फोट एक परीक्षण के दौरान किया गया था. इस विस्फोट से निकले मलबे में एक अलग और अजीब तरह की धातु मिली थी. बेहद रेडियोएक्टिव इस धातु के बारे में तब से अब तक लगातार जानने की कोशिश हो रही थी. वैज्ञानिकों की टीम ने इस धातु को अल्बर्ट आइंस्टीन के नाम पर आइंस्टीनियम (Einsteinium) नाम दिया है.  ...

विज्ञान Archives - समाचार नामा

World Wildlife Day : उपराष्ट्रपति, पीएम ने संरक्षण पर दिया जोर

March 3, 2021...

जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप लॉन्च की तैयारी के लिए अंतिम कार्यात्मक...

March 3, 2021...

नासा के अंतरिक्ष यात्री 7 घंटे लंबे स्पेसवॉक को पूरा करते...

March 3, 2021...

अमेरिका के टेक्सास में अभूतपूर्व मौसम के कारण बोइंग की स्टारलाइनर...

March 3, 2021...

वनप्लस के सीईओ ने 8 मार्च को ‘Moonshot’ की घोषणा की

March 2, 2021...

Study: भारत में स्कूली छात्रों ने 18 नए क्षुद्रग्रहों की खोज...

March 2, 2021...

Falcon 9 लॉन्च के बारें में पढ़ें और समझें

March 2, 2021...

ESA ने मंगल पर अपने नए घर में फोर्टो रोवर की...

March 2, 2021...

MapmyIndia ने कोरोनोवायरस टीकाकरण केंद्रों को खोजने के लिए नक्शे और...

March 2, 2021...

PSLV-C51 पर पांच छात्र-निर्मित उपग्रह युवा दिमाग के सपनों को बढ़ावा...

March 1, 2021...

Shraddha Kapoor: क्या जन्मदिन के मौके पर श्रद्धा कपूर ने कर...

March 3, 2021...

Karan Johar: इस साल Netflix पर होगा करण जौहर के इन...

March 3, 2021...

Aamir Khan को मिला कानूनी नोटिस, जाने क्या है पूरा मामला

March 3, 2021...

हैवानियत की इंतहा, 10 साल की बच्ची के साथ किया 3...

July 1, 2017...

16 साल की उम्र में ही इस खूबसूरत लड़की के 16...

September 26, 2017...

नौकर ने मालिक की बेटी के साथ किया हैवानियत भरा काम...

July 9, 2017...

अंतरिक्ष विज्ञान ज्ञानकोष

Science News in Hindi | Science Articles in Hindi | विज्ञान समाचार | ज्ञान विज्ञान

ब्लैक होल क्या है, जानिए 5 रहस्य

ब्लैक होल को हिन्दी में कृष्ण विवर कहते हैं। ब्लैक होल के बारे में सभी ने सुना होगा लेकिन हो सकता है कि कम लोग ही जानते होंगे कि Black hole क्या होता। क्या आप जानते हैं कि ब्लैक होल क्या होता है? नहीं, तो चलिए जान लेते हैं कि यह क्या होता है। ...

मंगल ग्रह के 10 रोचक तथ्य

हमारे सौर पथ पर परिभ्रमण करने वाले ग्रहों की संख्या भारतीय ज्योतिष के अनुसार मुख्यत: 6 है जिनका धरती पर प्रभाव पड़ता है। ये छह ग्रह है:- सूर्य, बुध, मंगल, शुक्र, ब्रहस्पति और शनि। चंद्रमा धरती का उपग्रह है। इस तरह 7 ग्रह हुए। फिर दक्षिण और उत्तरी ... ...

स्पीड ने ही बदली दुनिया, जानिए रहस्य

गति ने ही मानव का जीवन बदला है और गति ही बदल रही है। बैलगाड़ी और घोड़े से उतरकर व्यक्ति साइकल पर सवार हुआ। फिर बाइक पर और अब विमान में सफर करने लगा। पहले 100 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए 2 दिन लगते थे अब कार से 2 घंटे में 100 किलोमीटर पहुंच सकते ... ...

गाय के गोबर के 3 महत्वपूर्ण उपयोग

गाय के गोबर के कई उपयोग बताए जाते हैं। कुछ लोग इसे वैज्ञानिक नहीं मानते हैं और कुछ लोग मानते हैं। हालांकि गाय के गोबर के उपयोग के बारे में कई तरह की बातें हैं और कई प्रकार से इसका उपयोग करने को लेकर किताबें भी लिखी गई है। गाय का दूध और गाय के ... ...

भारत के पास हैं तीन समुद्र और हजारों किलोमीटर के समुद्री तट

भारत के एक ओर हिमालय तो तीन और समुद्र है। भारत तीन ओर से समुद्र से घिरा है और जिसके 13 राज्यों की सीमा से समुद्र लगा हुआ है। निम्न प्रमुख समुद्र तटों से समुद्र को निहारना बहुत ही रोमांचक अनुभव होता है। ये राज्य निम्न हैं- 1.आंध्रप्रदेश, 2.पश्चिम ... ...

समुद्र की गहराई कितनी होती है, जानिए रोचक जानकारी

सभी सागरों की गहराई अलग-अलग मानी गई है। हालांकि महासागरों की गहराई का रहस्य अभी भी बरकरार है। समुद्र की गहराई बेहद ठंडी, अंधेरी होती है और कभी-कभी तो ज्यादा दबाव के कारण यहां ऑक्सीजन भी काफी कम हो जाती है। धरती पर जितना दबाव महसूस होता है, समुद्र की ... ...

समुद्र की खतरनाक लहरें, बच कर रहें इस दिन लहरों से

कई लोग समुद्र की लहरों की चपेट में आकर अपनी जिंदगी गवां बैठे हैं और कई लोग की जान जाते जाते बची है। मछुआरे, सैनिक और शोधकर्ता तो इन लहरों का सामना करना जानते हैं परंतु आम आदमी जब समुद्री तट पर जाता है तो वह शायद ही जान पाता है होगा कि समुद्र के ... ...

धौलीगंगा और ऋषि गंगा, जानिए उत्तराखंड की तबाही से भारत कैसे विनाश की ओर बढ़ रहा

उत्तराखंड के चमोली जिले में बिजली उत्पादन की एक परियोजना चल रही है। जिसका नाम ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट हैं यहीं पर धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना भी है। यह सरकारी नहीं बल्कि निजी क्षेत्र की परियोजना है। ऋषि गंगा नदी पर यह प्रोजेक्ट चल रहा था। ऋषि गंगा ... ...

हिमालय के सभी ग्लेशियर पिघल जाएंगे तो क्या होगा?

उत्तराखंड के केदारधाम में चोराबाड़ी ग्लेशियर के टूटने से आई तबाही के बाद हमने हाल ही में देखा चमोली ग्लेशियर के टूटने से हुई तबाही को। ग्लेशियरों पर शोध करने वाले विशेषज्ञों के मुताबिक हिमालय के इस हिस्से में ही एक हज़ार से अधिक ग्लेशियर हैं। ... ...

शनि ग्रह के बारे में विज्ञान की खास 10 बातें

शनि ग्रह के संबंध में ज्योतिष और खगोल विज्ञान दोनों की अलग अलग धारणाएं हैं। आओ जानते हैं कि खगोल विज्ञान क्या कहता है इस संबंध में संक्षिप्त जानकारी। ...

खगोल विज्ञान की उत्पत्ति क्या भारत में हुई?

खगोल विज्ञान अर्थात एस्ट्रोनॉमी (Astronomy) परंतु हमारे देश में प्राचीनकाल से ही ज्योतिष अर्थात एस्ट्रोलॉजी (Astrology) प्रचलित रही है। क्या एस्ट्रोनॉमी से भिन्न है एस्ट्रोलॉजी। पर सवाल यह उठता है कि फिर क्या भारत में खगोल विज्ञान की उत्पत्ति नहीं ... ...

आश्चर्य! 6 माह का दिन और 6 माह की रात, 76 दिन निकलता सूर्य और 40 मिनट की ही है रात

जब आप रात को सोते हैं और 7 या 8 घंटे बाद सुबह उठते हैं तो आप सूर्य को देखकर कहते हैं कि वाह कितनी अच्छी सुबह है, लेकिन जब आपकी सुबह ही 6 माह बाद होगी तो क्या कहेंगे? जी हां दोस्तों, आज हम जानेंगे उस जगह के बारे में जहां 6 महीने दिन और 6 महीना रात ... ...

समुद्र का जन्म कैसे हुआ, जानिए रोचक जानकारी

समुद्र को सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि आदि नामों से भी पुकारा जाता है। अंग्रेजी में इसे सी (sea) कहते और महासागर को ओशन (ocean) कहते हैं। ब्रह्मांड में धरती धूल का कण भी नहीं। मान लो अगर धरती धूल के कण के बराबर है ... ...

UFO Day : उड़न तश्तरी और एलियंस के 10 रहस्य

भारत सहित दुनियाभर में लोग उड़न तश्तरी को देखे जाने के बाद करते हैं उनमें से कुछ तो एलियंस को भी देखे जाने का दावा करते हैं। एलियंस अर्थात अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर रहने वाले लोग जो उड़न तश्तरी अर्थात यूएफओ में सफर करते हैं। आओ जानते हैं इस ... ...

धूमकेतु किसे कहते हैं, जानिए रहस्य

अंतरिक्ष में दो तरह के पिंड घूम रहे हैं, एक उल्कापिंड और दूसरा धूमकेतु। धूमकेतु को पुच्छल तारा भी कहते हैं। इसके पीछे जलती हुई पूंछ दिखाई देती है इसलिए इसे पुच्छल तारा भी कहते हैं। उल्कापिंड की अपेक्षा धूमकेतु ज्यादा तेजी से घूमते हैं। हमारे सौर ... ...

वैज्ञानिकों ने धरती का सबसे नजदीकी ब्लैक होल खोजा

वॉशिंगटन। खगोल विज्ञानियों ने पृथ्वी के अब तक के सबसे नजदीकी ब्लैक होल का पता लगाया है। यह धरती के इतना नजदीक है कि इसके साथ नृत्य करते 2 तारों को बिना दूरबीन के देखा जा सकता है। ...

अंतरिक्ष केंद्र पर जरूरी माल लेकर पहुंचा रूसी अंतरिक्ष यान

मॉस्को। रूस का मानवरहित कैप्सूलनुमा अंतरिक्ष यान अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र पहुंच गया है, जहां वह 3 सदस्यीय चालक दल के लिए 2 टन माल लेकर गया है। कजाखस्तान में रूस के बाइकोनूर प्रक्षेपण परिसर से उड़ान भरने के करीब 3.30 घंटे बाद ‘प्रोग्रेस’ ... ...

मेंढक की स्टेम सेल से तैयार हुआ दुनिया का पहला जिंदा रोबोट, कैंसर कोशिकाओं का करेगा खात्मा

वर्मोंट (अमेरिका)। वैज्ञानिकों ने मेंढक के स्टेम सेल से दुनिया का पहला जिंदा और सेल्फ हीलिंग रोबोट तैयार किया है। इस रोबोट को बनाने में अफ्रीका में पाए जाने वाले स्टेम सेल का प्रयोग किया गया है। यह कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने में बड़ा मददगार साबित ... ...

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस बताएगा आप कितने हैं मौत के करीब

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) ने मानव जीवन में एक महत्वपूर्ण जगह बना ली है। हाल ही में एक शोध में सामने आया है कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) स्टेंडर्ड ईसीजी टेस्ट की मदद से किसी भी मरीज की एक साल के अंदर होने वाली संभावित मौत का कारण बता सकता है। ...

Invalid RSS feed URL.

Science News in Hindi | Science Articles in Hindi | विज्ञान समाचार | ज्ञान विज्ञान

ब्लैक होल क्या है, जानिए 5 रहस्य

ब्लैक होल को हिन्दी में कृष्ण विवर कहते हैं। ब्लैक होल के बारे में सभी ने सुना होगा लेकिन हो सकता है कि कम लोग ही जानते होंगे कि Black hole क्या होता। क्या आप जानते हैं कि ब्लैक होल क्या होता है? नहीं, तो चलिए जान लेते हैं कि यह क्या होता है। ...

मंगल ग्रह के 10 रोचक तथ्य

हमारे सौर पथ पर परिभ्रमण करने वाले ग्रहों की संख्या भारतीय ज्योतिष के अनुसार मुख्यत: 6 है जिनका धरती पर प्रभाव पड़ता है। ये छह ग्रह है:- सूर्य, बुध, मंगल, शुक्र, ब्रहस्पति और शनि। चंद्रमा धरती का उपग्रह है। इस तरह 7 ग्रह हुए। फिर दक्षिण और उत्तरी ... ...

स्पीड ने ही बदली दुनिया, जानिए रहस्य

गति ने ही मानव का जीवन बदला है और गति ही बदल रही है। बैलगाड़ी और घोड़े से उतरकर व्यक्ति साइकल पर सवार हुआ। फिर बाइक पर और अब विमान में सफर करने लगा। पहले 100 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए 2 दिन लगते थे अब कार से 2 घंटे में 100 किलोमीटर पहुंच सकते ... ...

गाय के गोबर के 3 महत्वपूर्ण उपयोग

गाय के गोबर के कई उपयोग बताए जाते हैं। कुछ लोग इसे वैज्ञानिक नहीं मानते हैं और कुछ लोग मानते हैं। हालांकि गाय के गोबर के उपयोग के बारे में कई तरह की बातें हैं और कई प्रकार से इसका उपयोग करने को लेकर किताबें भी लिखी गई है। गाय का दूध और गाय के ... ...

भारत के पास हैं तीन समुद्र और हजारों किलोमीटर के समुद्री तट

भारत के एक ओर हिमालय तो तीन और समुद्र है। भारत तीन ओर से समुद्र से घिरा है और जिसके 13 राज्यों की सीमा से समुद्र लगा हुआ है। निम्न प्रमुख समुद्र तटों से समुद्र को निहारना बहुत ही रोमांचक अनुभव होता है। ये राज्य निम्न हैं- 1.आंध्रप्रदेश, 2.पश्चिम ... ...

समुद्र की गहराई कितनी होती है, जानिए रोचक जानकारी

सभी सागरों की गहराई अलग-अलग मानी गई है। हालांकि महासागरों की गहराई का रहस्य अभी भी बरकरार है। समुद्र की गहराई बेहद ठंडी, अंधेरी होती है और कभी-कभी तो ज्यादा दबाव के कारण यहां ऑक्सीजन भी काफी कम हो जाती है। धरती पर जितना दबाव महसूस होता है, समुद्र की ... ...

समुद्र की खतरनाक लहरें, बच कर रहें इस दिन लहरों से

कई लोग समुद्र की लहरों की चपेट में आकर अपनी जिंदगी गवां बैठे हैं और कई लोग की जान जाते जाते बची है। मछुआरे, सैनिक और शोधकर्ता तो इन लहरों का सामना करना जानते हैं परंतु आम आदमी जब समुद्री तट पर जाता है तो वह शायद ही जान पाता है होगा कि समुद्र के ... ...

धौलीगंगा और ऋषि गंगा, जानिए उत्तराखंड की तबाही से भारत कैसे विनाश की ओर बढ़ रहा

उत्तराखंड के चमोली जिले में बिजली उत्पादन की एक परियोजना चल रही है। जिसका नाम ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट हैं यहीं पर धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना भी है। यह सरकारी नहीं बल्कि निजी क्षेत्र की परियोजना है। ऋषि गंगा नदी पर यह प्रोजेक्ट चल रहा था। ऋषि गंगा ... ...

हिमालय के सभी ग्लेशियर पिघल जाएंगे तो क्या होगा?

उत्तराखंड के केदारधाम में चोराबाड़ी ग्लेशियर के टूटने से आई तबाही के बाद हमने हाल ही में देखा चमोली ग्लेशियर के टूटने से हुई तबाही को। ग्लेशियरों पर शोध करने वाले विशेषज्ञों के मुताबिक हिमालय के इस हिस्से में ही एक हज़ार से अधिक ग्लेशियर हैं। ... ...

शनि ग्रह के बारे में विज्ञान की खास 10 बातें

शनि ग्रह के संबंध में ज्योतिष और खगोल विज्ञान दोनों की अलग अलग धारणाएं हैं। आओ जानते हैं कि खगोल विज्ञान क्या कहता है इस संबंध में संक्षिप्त जानकारी। ...

खगोल विज्ञान की उत्पत्ति क्या भारत में हुई?

खगोल विज्ञान अर्थात एस्ट्रोनॉमी (Astronomy) परंतु हमारे देश में प्राचीनकाल से ही ज्योतिष अर्थात एस्ट्रोलॉजी (Astrology) प्रचलित रही है। क्या एस्ट्रोनॉमी से भिन्न है एस्ट्रोलॉजी। पर सवाल यह उठता है कि फिर क्या भारत में खगोल विज्ञान की उत्पत्ति नहीं ... ...

आश्चर्य! 6 माह का दिन और 6 माह की रात, 76 दिन निकलता सूर्य और 40 मिनट की ही है रात

जब आप रात को सोते हैं और 7 या 8 घंटे बाद सुबह उठते हैं तो आप सूर्य को देखकर कहते हैं कि वाह कितनी अच्छी सुबह है, लेकिन जब आपकी सुबह ही 6 माह बाद होगी तो क्या कहेंगे? जी हां दोस्तों, आज हम जानेंगे उस जगह के बारे में जहां 6 महीने दिन और 6 महीना रात ... ...

समुद्र का जन्म कैसे हुआ, जानिए रोचक जानकारी

समुद्र को सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि आदि नामों से भी पुकारा जाता है। अंग्रेजी में इसे सी (sea) कहते और महासागर को ओशन (ocean) कहते हैं। ब्रह्मांड में धरती धूल का कण भी नहीं। मान लो अगर धरती धूल के कण के बराबर है ... ...

UFO Day : उड़न तश्तरी और एलियंस के 10 रहस्य

भारत सहित दुनियाभर में लोग उड़न तश्तरी को देखे जाने के बाद करते हैं उनमें से कुछ तो एलियंस को भी देखे जाने का दावा करते हैं। एलियंस अर्थात अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर रहने वाले लोग जो उड़न तश्तरी अर्थात यूएफओ में सफर करते हैं। आओ जानते हैं इस ... ...

धूमकेतु किसे कहते हैं, जानिए रहस्य

अंतरिक्ष में दो तरह के पिंड घूम रहे हैं, एक उल्कापिंड और दूसरा धूमकेतु। धूमकेतु को पुच्छल तारा भी कहते हैं। इसके पीछे जलती हुई पूंछ दिखाई देती है इसलिए इसे पुच्छल तारा भी कहते हैं। उल्कापिंड की अपेक्षा धूमकेतु ज्यादा तेजी से घूमते हैं। हमारे सौर ... ...

वैज्ञानिकों ने धरती का सबसे नजदीकी ब्लैक होल खोजा

वॉशिंगटन। खगोल विज्ञानियों ने पृथ्वी के अब तक के सबसे नजदीकी ब्लैक होल का पता लगाया है। यह धरती के इतना नजदीक है कि इसके साथ नृत्य करते 2 तारों को बिना दूरबीन के देखा जा सकता है। ...

अंतरिक्ष केंद्र पर जरूरी माल लेकर पहुंचा रूसी अंतरिक्ष यान

मॉस्को। रूस का मानवरहित कैप्सूलनुमा अंतरिक्ष यान अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र पहुंच गया है, जहां वह 3 सदस्यीय चालक दल के लिए 2 टन माल लेकर गया है। कजाखस्तान में रूस के बाइकोनूर प्रक्षेपण परिसर से उड़ान भरने के करीब 3.30 घंटे बाद ‘प्रोग्रेस’ ... ...

मेंढक की स्टेम सेल से तैयार हुआ दुनिया का पहला जिंदा रोबोट, कैंसर कोशिकाओं का करेगा खात्मा

वर्मोंट (अमेरिका)। वैज्ञानिकों ने मेंढक के स्टेम सेल से दुनिया का पहला जिंदा और सेल्फ हीलिंग रोबोट तैयार किया है। इस रोबोट को बनाने में अफ्रीका में पाए जाने वाले स्टेम सेल का प्रयोग किया गया है। यह कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने में बड़ा मददगार साबित ... ...

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस बताएगा आप कितने हैं मौत के करीब

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) ने मानव जीवन में एक महत्वपूर्ण जगह बना ली है। हाल ही में एक शोध में सामने आया है कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) स्टेंडर्ड ईसीजी टेस्ट की मदद से किसी भी मरीज की एक साल के अंदर होने वाली संभावित मौत का कारण बता सकता है। ...

The Hindu - Science

Best from science journals: Memory without a brain

Here are some of the most interesting research papers to have appeared in top science journals last week ...

Australia building world's first platypus sanctuary

The platypus is rarely seen in the wild due to its reclusive nature and highly specific habitat needs. ...

In a ‘first’, Himalayan serow spotted in Assam

It augurs well for the health of Manas Tiger Reserve, says official ...

Painstaking study of 'Little Foot' fossil sheds light on human origins

The researchers spotted defects in the tooth enamel indicative of two childhood bouts of physiological stress such as disease or malnutrition. ...

Climate extremes seen harming unborn babies in Brazil's Amazon

The study said the “long-term political neglect of provincial Amazonia” and “uneven development in Brazil” needed to be addressed to tackle the “double burden” of climate change and health inequalities ...

At least 1,500 Britons killed by climate change-fuelled heat this century

About 5.2 million homes and other properties in England are at risk of flooding, according to Britain’s Environment Agency ...

Exotic earthworm found in Karnataka for the first time

The same earthworm was earlier recorded in 15 States/Union Territories in India ...

Perseverance rover's exciting work to happen in coming weeks: NASA's Vishnu Sridhar

Sridhar is a lead system engineer at NASA’s Jet Propulsion Laboratory (JPL) in Pasadena, California for SuperCam on the Mars 2020 Perseverance rover, which is on a mission to search for signs of past life on the Red Planet. ...

Dr Deepak Ravindran on his book ‘The Pain-Free Mindset’ and longcovid treatment

In his book ‘The Pain-Free Mindset’, Dr Deepak Ravindran says pain is not a sign of danger but an evolutionary mechanism of protection ...

Argentine titanosaur could be the oldest ever found: study

Titanosaurs were members of the sauropod group ...

Russia launches satellite to monitor climate in Arctic

The satellite will also be able to retransmit distress signals from ships, aircraft or people in remote areas as part of the international Cospas-Sarsat satellite-based search and rescue programme, Roscosmos said. ...

ISRO places Brazil’s Amazonia-1, 18 other satellites in orbit

53rd flight of PSLV-C51 marks first dedicated mission for New Space India Ltd, the commercial arm of ISRO. ...

New light on rise of mammals

The ancestor of all primates likely lived alongside large dinosaurs ...

Question Corner: Did dogs migrate with humans to the Americas?

Readers may send their questions/answers to questioncorner@thehindu.co.in ...

IISER Kolkata scientists simulate Mars on the computer, suggest how it lost its atmosphere

The researchers model a Mars-like planet interacting with plasma wind from a Sun-like star ...

Coronavirus | Is India witnessing the beginning of the second wave?

While there were no large surges even during the festival season, ICMR’s third serosurvey found only 21.5% of India has been exposed to the virus ...

Coronavirus | COVID-19 can be transmitted via lung transplant

The surgeon wore only a surgical mask when preparing the lungs ...

Nanosheets help in the detection of uric acid in urine, alcohol in breath

The device could detect alcohol concentrations of even less than 3% in breath ...

Watch | World's wettest place sees decreasing rainfall patterns

A video on the decreasing rainfall trend in the wettest place on Earth. ...

Global travellers exposed to a greater burden of multidrug-resistant bacteria: study

Travellers can pick up the bacteria even during short visits and further spread the strains after returning home. ...

Human lives lost due to wildlife-human conflict need to be better compensated, say scientists

The average compensation paid for human death in India is ₹1,91,437, and the average compensation paid for injury is ₹6,185 ...

Coronavirus | 45+ with comorbidities will need doctor certificate for COVID-19 vaccination, says task force member

'Serum Institute’s Covishield vaccine will be available at private hospitals.' ...

Watch | IIT Guwahati's alternative to testing cancer drugs

A video on IIT Guwahati's alternative method to test breast and liver cancer drugs using silk-protein-based tumour models. ...

Best from science journals: A robot without electronics

Here are some of the most interesting research papers to have appeared in top science journals last week. ...

China's Mars craft enters parking orbit before landing rover

A successful bid to land Tianwen-1 would make China only the second country after the U.S. to place a spacecraft on Mars ...

17,000-year-old kangaroo painting is Australia's oldest Aboriginal rock art

The team dated 27 mud wasp nests around 16 different paintings from eight rock shelters ...

Decoded: the secret message on Mars rover’s giant parachute

Only about six people knew about the encoded message before Thursday’s landing ...

IIT Ropar develops alternative to alcohol-based disinfectant

Electrolysed water can be used as “a powerful natural tool” to combat COVID-19 ...

Microbes from Earth could temporarily survive on Mars: study

While not all the microbes survived the trip, one previously detected on the International Space Station, the black mold Aspergillus niger, could be revived after it returned home. ...

Scientists decode how Mars may have lost its atmosphere

The researchers believe the study has important implications for the search for habitable exoplanets ...

NASA releases first audio from Mars, video of Perseverance rover landing

The video clip showed the deployment of the parachute and the rover’s touchdown on the surface of the Red Planet. ...

DRDO successfully launches VL-SRSAM twice

The launches were carried out from a static vertical launcher from Integrated Test Range (ITR), Chandipur. ...

Chandrayaan-3 launch delayed further to 2022

Chandrayaan-3 is critical for ISRO. ...

An estimate of WASH across healthcare facilities in India

The issue of water, sanitation and hygiene (WASH) is related to infection prevention and control. ...

Question Corner: How hospitable are lakes isolated beneath Antarctic ice?

Readers may send their questions/answers to questioncorner@thehindu.co.in ...

Coronavirus | Challenges in developing, testing vaccines against variants

It is highly unlikely that we will be repeating phase-3 studies for every new vaccine based on a variant strain, but we do need alternative regulatory pathways, says Gagandeep Kang. ...

Wettest place on Earth sees decreasing trend in rainfall

Researchers noted that the changes in the Indian Ocean temperature have a huge effect on the rainfall in the region ...

Planet Earth its quietest in decades as lockdowns reduce seismic noise

Urban ambient noise fell by up to 50% at some measuring stations during the tightest lockdown weeks, as buses and train services were reduced, aircraft grounded and factories shuttered ...

'Something we've never seen' - Mars rover beams back selfie from moment before landing

The image was taken at the very end of the so-called "seven-minutes-of-terror" descent sequence ...

Indian-American scientist Swati Mohan leads NASA’s Mars 2020 mission

"Touchdown confirmed," exclaimed Ms. Mohan, who emigrated from India to the US when she was only a year old. ...

NASA’s Perseverance rover makes historic Mars landing

The rover will begin its search for traces of ancient microbial life on Mars ...

Teeth from Siberian mammoths yield oldest DNA ever recovered

Until now, the oldest DNA came from a horse that lived in Canada's Yukon territory about 700,000 years ago ...

Andhra girl brings laurels to State by identifying asteroid

Gets certificate from intl. organisation for identifying asteroid ...

NASA Perseverance rover attempting most difficult Martian touchdown yet

The rover will explore the area around Jezero Crater, once home to a lake fed by a river ...

Coronavirus | NIMHANS uploads 250 genome sequences

‘India has contributed over 7,000 sequences on the global database’ ...

Russia's unmanned cargo ship docks at International Space Station

The Progress MS-16 cargo ship has delivered water, propellant and other supplies to the orbiting outpost ...

Comet from edge of solar system killed the dinosaurs: study

Their analysis suggests that we can expect similar impacts every 250 million to 750 million years. ...

Best from science journals: Listen to the sound of an 18,000-year-old seashell horn

Here are some of the most interesting research papers to have appeared in top science journals last week. ...

Global wildlife trade causes decline of species abundance: study

International wildlife trade is said to be worth between $4 to $20 billion per year ...

Scientists studying samples to know roots of Uttarakhand glacier disaster

Five WIHG researchers travel to disaster site and undertake aerial surveys ...

Science News in Hindi: साइंस न्यूज़, Latest Scientific Discoveries, वैज्ञानिक खोज, विज्ञान और टेक न्यूज़, Technology News in Hindi | NavBharat Times

सूरज से धरती पर आ रहा तेज तूफान, सैटलाइट टेक्नॉलजी को हो सकता है नुकसान, पर Aurora खूब निखरेंगे

एक शक्तिशाली जियोमैग्नेटिक तूफान धरती की ओर आ रहा है। सूरज से आने वाली इन हवाओं के साथ सोलर पार्टिकल 500 किमी प्रति सेकंड की रफ्तार से स्पेस में चल रहे हैं। इसकी वजह से धरती के सैटलाइट पर निर्भर उपकरणों में बाधा हो सकती है। धरती के ऊपरी वायुमंडल के गर्म होने से ये सैटलाइट सिग्नल्स को धरती में पहुंचने में बाधा डाल सकते हैं। NOAA के एक्सपर्ट्स का कहना है कि इनकी वजह से आर्कटिक ऑरोरा (Aurora) पैदा हो सकता है। ...

Glowing Shark: महासागर में 1000 फीट नीचे मिली अंधेरे में चमकने वाली विशाल शार्क, वैज्ञानिकों ने पहली बार देखा नजारा

Giant Glow in the Dark: न्यूजीलैंड के अंधेरे सागर में 1000 फीट नीचे ऐसी शार्क मिली है जो अंधेरे में चमकती है। यह चमकने वाली सबसे बड़ी रीढ़ के हड्डी वाली जीव है। ...

'आओ तुम्हें चांद पे ले जाएं...' जापानी अरबपति की Elon Musk के साथ है तैयारी, अब बस चाहिए 8 हमसफर

जापान के अरबपति यासुका मीजावा (Yusaku Maezawa) ने चांद की सैर पर अपने साथ चलने के लिए आठ लोगों की खोज शुरू कर दी है। इस पहली प्राइवेट पैसेंजर्स ट्रिप पर इन लोगों को Elon Musk की कंपनी SpaceX लेकर जाएगी। पहले यासुका का प्लान था कि 2023 में हफ्ते भर के इस मिशन पर कलाकारों को ले जाया जाएगा। अब दुनियाभर से लोगों को इससे जुड़ने का मौका दिया जाएगा। इसके लिए चुनाव प्रक्रिया का पहला चरण 14 मार्च तक होगा। इसमें लोगों का मेडिकल चेकअप होगा और फिर मीजावा के साथ इंटरव्यू। ...

Yesterday and Tomorrow Islands: 3 मील दूर दो टापू, फिर भी वक्त में 21 घंटे का अंतर कैसे?

Big and Little Diomede Islands: रूस का बिग डायोमीड टापू अमेरिका के लिटिल डायोमीड टापू का पड़ोसी है। दोनों के बीच 3 मील की दूरी है। फिर भी दोनों के बीच 21 घंटे का अंतर है। ...

Space Hurricane on Earth: पहली बार देखा गया अंतरिक्ष से धरती पर उतरा चक्रवात, पानी की जगह बरस रहा था कुछ और

धरती पर आने वाले चक्रवातों के बारे में तो ज्यादातर लोग जानते हैं लेकिन अब वैज्ञानिकों ने पुष्टि की है कि अंतरिक्ष में भी चक्रवात आ रहे हैं। धरती के ऊपरी वायुमंडल में इलेक्ट्रॉन्स का यह प्लाज्मा पाया गया है। चीन की शान्डॉन्ग यूनिवर्सिटी की टीम ने बताया है कि 621 मील चौड़ा प्लाज्मा का मास उत्तर ध्रुव के ऊपर देखा गया। जैसे धरती पर चक्रवात पानी की बरसात करता है, वैसे ही यह प्लाज्मा इलेक्ट्रॉन बरसा रहा था। यह ऐंटी-क्लॉकवाइज घूम रहा था और आठ घंटे तक चलता रहा। (फोटो: Nature, क्रेडिट: Qing-He Zhang) ...

स्पेस में बनेगा पहला होटेल, Voyager Station में होगा रेस्तरां, स्पा, सिनेमा हॉल और भी बहुत कुछ

दुनिया में एक से एक आलीशान होटेल हैं लेकिन अब तैयार हो जाइए धरती के बाहर बनने वाले पहले होटेल के लिए। अब से चार साल बाद 2025 में धरती की निचली कक्षा में इस होटेल पर काम शुरू होने वाला है। यहां रेस्तरां होंगे, सिनेमा, स्पा और 400 लोगों के लिए कमरे भी होंगे। ऑर्बिटल असेंबली कॉर्पोरेशन (OAC) का वोयेजर स्टेशन 2027 तक तैयार हो सकता है। यह स्पेस स्टेशन एक बड़ा सा गोला होगा और आर्टिफिशल ग्रैविटी पैदा करने के लिए घूमता रहेगा। यह ग्रैविटी चांद के गुरुत्वाकर्षण के बराबर होगी। ...

दिमाग के लिए चिप बना रहे हैं एलन मस्क, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस से इंसानों का मुकाबला

SpaceX और Tesla जैसी कंपनियों के मालिक Elon Musk अपने हैरतंगेज आइडियाज के लिए हमेशा मशहूर रहे हैं। इसमें सिर्फ गाड़ियां या अंतरिक्ष की सैर जैसे सपने नहीं, अब इंसानी दिमाग और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस को जोड़ने की कोशिश भी शामिल हो चुकी है, जिसे नाम दिया गया है Neuralink जो मस्क की न्यूरल इंटरफेस टेक्नॉलजी कंपनी है। इसकी मदद से एक इंसान के दिमाग में चिप इंसर्ट कर दी जाएगी जो न सिर्फ दिमाग की ऐक्टिविटी को रिकॉर्ड करेगी, उस पर असर भी डाल सकेगी। यूं तो यह हाई-टेक तरीका सुनने में अजीब या गैर-जरूरी भी लग सकता है लेकिन पारकिंसन्स जैसी बीमारी के इलाज में इसका इस्तेमाल काफी अहम साबित हो सकता है। ...

नासा के Hubble Telescope ने ली 'अंतरिक्ष के हार' की तस्वीर, जानें कैसे जड़े हैं ये 'हीरे'

Necklace Nebulae: NASA के हबल टेलिस्कोप ने अंतरिक्ष में फटते सितारे की तस्वीर ली है जो हीरे जड़े किसी हार जैसी लग रही है। ...

रूस: उल्कापिंड या एलियन नहीं, साइबेरिया में 'रहस्यमय' गड्ढों के पीछे की वजह किसी चेतावनी से कम नहीं

पश्चिमी साइबेरिया में पिछले साल अचानक एक विशाल क्रेटर देखा गया था। जियोसाइंसेज में छपी एक स्टडी के मुताबिक रूस के रिसर्चर्स ने बताया है कि धरती की सतह के नीचे मीथेन में होने वाले विस्फोटकों की वजह से 20 मीटर चौड़ा और 30 मीटर गहरा गड्ढा बन गया है। इस ब्लोआउट क्रेटर की तस्वीरें यहां से निकलने वाले ड्रोन विमानों ने लीं और फिर 3डी मॉडलिंग के आधार पर इसके आकार का अनैलेसिस किया गया। दूसरी स्टडीज के साथ इसके नतीजे मिलाने पर पता चलता है कि जलवायु परिवर्तन के कारण बढ़ते तापमान के असर से बर्फ पिघलती है और मीथेन गैस रिलीज होती है। ...

National Science Day: जिस खोज ने सीवी रमन को दिलाया था नोबेल, उसी से मुमकिन होगी मंगल ग्रह पर जीवन की तलाश

28 फरवरी, 1928 को महान वैज्ञानिक सर सीवी रमन (CV Raman) ने जब Raman Effect की खोज की थी तो उन्होंने एक बार फिर साबित कर दिया था कि भारत का कौशल मानव सभ्यता को ऊंचाई पर ले जाने के लिए कितना अहम है। इसने उन्हें पहली बार नोबेल पुरस्कार जीतने वाला भारतीय तो बनाया है, आज इसी तकनीक के सहारे धरती के बाहर जीवन की खोज की जा रही है। अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA ने मंगल पर जो Perseverance Rover उतारा है, उसके अंदर लगा खास इंस्ट्रुमेंट SHERLOC जो Raman Effect की मदद से ही यह पता लगाएगा कि क्या लाल ग्रह पर कभी जीवन था। ...

Asteroids के बीच छिपा बैठा धूमकेतु, 4 लाख मील लंबी पूंछ वाला स्पेस ऑब्जेक्ट खगोलविदों के लिए बना पहेली

सौर मंडल के सबसे बड़े ग्रह बृहस्पति के पीछे-पीछे ऐस्टरॉइड्स भी सूरज का चक्कर काटते हैं जिन्हें Trojan asteroid कहते हैं। अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA के हबल टेलिस्कोप ने इन ऐस्टरॉइड्स के बीच एक विशाल धूमकेतु पाया है। NASA ने बताया है कि सूरज की ओर अरबों मील तक सफर करने के बाद अब यह धूमकतु रास्ते में आराम करता मिला है। यह ऐस्टरॉइड्स के बीच मौजूद है और ऐसा धूमकेतु पहली बार देखा गया है। अब यह जानने की कोशिश की जा रही है कि यह धूमकेतु वहां पहुंचा कैसे। ...

देखें: ढके-छिपे शुक्र ग्रह की तस्वीर कैसे चुरा लाया NASA का Parker Solar Probe, वैज्ञानिक भी हैरान

Venus Photo: NASA का पार्कर सोलर प्रोब शुक्र की साफ तस्वीर खींचकर लाया है। शुक्र की सतह कार्बनडायऑक्साइड के बादलों से छिपी रहती है। ऐसे में यह तस्वीर कैसे ली गई, यह वैज्ञानिकों को हैरान कर रहा है। ...

Red Sprites-Blue Jets: आसमान में कड़कती बिजली के अनोखे रंग कैमरे में कैद, कैसे पैदा होती हैं ये लाल-नीला रेखाएं?

करीब चार साल पहले जुलाई 2017 में हवाई के आसमान में लाल और नीले रंग की बिजली कड़कती हुई देखी गई थी। मॉना किया स्थित जेमिनाई ऑब्जर्वेटरी के जेमिनाई नॉर्थ टेलिस्कोप ने यह तस्वीर कैद की। अमेरिका की नैशनल ऑप्टिकल-इन्फ्रारेड ऐस्ट्रॉनमी रिसर्च लैबोरेटरी (NOIRLab) ने बुधवार को इस तस्वीर को 'इमेज ऑफ द वीक' के तौर पर रिलीज किया है। इन की तस्वीरें और स्पेस देखे गए नजारे, किसी कल्पना से कम नहीं लगते हैं। यहां जानते हैं कि आखिर ये दुर्लभ रेखाएं बनती कैसे हैं- ...

वैज्ञानिकों ने खोजा फंगस जो मंगल पर भी रह सकता है जिंदा, इंसानों के मिशन को कितना खतरा?

धरती पर पाए जाने वाले कुछ सूक्ष्मजीवी (microbes) मंगल की सतह पर भी जीवित रह सकते हैं। एक स्टडी के मुताबिक आने वाले वक्त में मंगल पर भेजे जाने वाले मिशन्स के लिए यह खोज अहम हो सकती है। अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA और जर्मनी के एयरोस्पेस सेंटर (GAC) ने धरती के वायुमंडल की stratosphere परत पर ले जाकर मंगल जैसी कंडीशन्स में सूक्ष्मजीवियों को टेस्ट किया है। यहां पाया गया है कि ये कुछ देर के लिए मंगल पर जरूर जीवित रह सकते हैं। ...

First Cloned Ferret: 33 साल पहले मर चुकी थी मादा नेवला, अब क्लोन ने लिया जन्म, विज्ञान के चमत्कार से विविधता की उम्मीद

अपने अस्तित्व को बचाने की चुनौती का सामना कर रहे अमेरिका के ब्लैक-फुटेड फेरेट (नेवले की प्रजाति) को खतरे से बाहर निकालने की उम्मीद जग गई है। दरअसल, उत्तरी अमेरिका के इस जीव का पहला सफल क्लोन 10 दिसंबर को पैदा हुआ है। खास बात यह है कि इसे जिस मादा की कोशिकाओं (cells) से बनाया गया है, उसकी मौत 30 साल पहले हो गई थी। इसके जन्म के लिए एक पालतू फेरेट को सरोगेट के तौर पर इस्तेमाल किया गया। वैज्ञानिक इस सफलता से बेहद उत्साहित हैं और क्लोनिंग के साथ-साथ विलुप्तप्राय जीवों को बचाने की कोशिश में इसे बड़ी उप्लब्धि माना जा रहा है। ...

Science News: Latest India Science News, World Science News, Interesting Science Articles

Researchers find five new species of shrub frogs in Western Ghats

Researchers from India and the US have discovered five new species of shrub frogs from the Western Ghats....

In a first, space hurricane detected over North Pole. It swirled for 8 hours

A space hurricane was detected for the first time over the North Pole. These hurricanes rained electrons and lasted for 8 hours, a new study has found....

Nasa’s Mars rover Perseverance snapped in its ‘new home’ | See picture

The European Space Agency (ESA) released a vantage view of Nasa's Perseverance rover, showing how it looks like on the surface of Mars....

Mysterious ripples on swirling hills captured by NASA Landsat-8 leave scientists stumped

The pictures taken by a NASA satellite Landsar-8 show presence of an odd landscape in the cold Arctic depths of Siberia in Russia, near the Markha River with widespread ripples....

Who is controlling Nasa's Mars rover? Indian-origin scientist from his flat in London

Professor Sanjeev Gupta is controlling Nasa's Mars rover 'Perseverance' from his one-bedroom flat above a hairdresser in south London....

India launches Brazil's Amazonia-1 satellite

India's Polar rocket on Sunday successfully launched Amazonia-1 of Brazil and 18 other satellites from the spaceport Sriharikota. It was Indian Space Research Organisation's (ISRO) first launch of 2021....

Isro launches PSLV-C51 with 18 satellites, PM Modi's photo, Bhagavad Gita | Ten points

Indian Space Research Organisation launched the PSLV-C51 carrying Amazonia-1 and 18 other satellites from Sriharikot. Here is all you need to know about the lunch....

Countdown begins for ISRO's first mission in 2021, Brazil's Amazonia-1 on board

India's space agency ISRO will launch Brazilian satellite Amazonia-1 and 20 other payloads, including one built by an Indian start-up on February 28. This will be the first space mission in 2021 by Bengaluru-headquartered Indian Space Research Organisation....

Isro gearing up to launch SSLV, its new-generation mini rocket launch system, in maiden flight

Isro is targeting to launch the SSLV by march end or early April....

Over 7,000 Covid mutations documented. Here's why you should keep calm & mask on

Scientists said that 7,684 mutations in the SARS-CoV-2 genome were documented from the data analysis of 6,017 genomes sequenced so far, however, they added that this doesn't mean 7,000 variants are going around in the country. "That doesn't mean 7,000 variants are going around in the country....

'Dare Mighty Things': Mars rover's giant parachute carried secret message

The parachute used by Nasa's Perseverance rover to land on Mars contained a secret message. The spacecraft team used binary code to spell out "Dare Mighty Things" in the orange and white strips of the 70-foot (21-metre) parachute....

India Science Wire

“Data and Artificial Intelligence are growing sectors among new job clusters”

New Delhi, March 02, 2021 (India Science Wire)

Data and artificial intelligence are the fastest growing clusters and these sectors need to be included in schools, colleges, and university curricula, said Director IBM Research India, and CTO, IBM India and South Asia, Dr. Gargi B Dasgupta. She was discussing the jobs that would stay for the next ten years, at a special lecture on National Science Day (NSD) on the theme ...

Zero-emission technology to manage and recycle E-waste

New Delhi, March 02, 2021 (India Science Wire)

India is the third-largest producer of e-waste and has generated 3.23 MMT E-waste in 2019 alone. Paltry e-waste management makes the situation even more challenging. ...

वन्यजीवों के संरक्षण को लेकर सजग होने का समय

नई दिल्ली, मार्च 02, 2021 (इंडिया साइंस वायर)

पृथ्वी पर अलग-अलग प्रकार से जीवन का विकास हुआ है, जो मानव के अस्तित्व में आने के साथ ही उसकी आवश्यकताओं को पूरा करता रहा है और आज भी कर रहा है। प्रकृति में अनेक प्रकार के जीव-जन्तु हैं, जो पारिस्थितिक तंत्र के अनुरूप विकसित हुए हैं, और उनका जीवन तब तक सामान्य रूप से चलता रहता है, जब तक पर्यावरण अनुकूल रहता है। लेकिन, मनुष्य ने विकास के क्रम में न केवल पारिस्थितिक तंत्र को बिगाड़ा है, बल्कि वन्यजीवों और समुद्री जीवों के अस्तित्व का संकट खड़ा कर दिया है। ...

तीन दिवसीय ‘ग्लोबल बायो इंडिया-2021’ शुरू

नई दिल्ली, मार्च 02, 2021 (इंडिया साइंस वायर)

जैव प्रौद्योगिकी का सबसे बड़ा जलसा ग्लोबल बायो इंडिया, 2021 का नई दिल्ली में सोमवार, एक मार्च को उद्घाटन हुआ। केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने इसका उद्घाटन किया। इस अवसर पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मुख्य अतिथि रहीं। इस तीन दिवसीय आयोजन में जैव प्रौद्योगिकी के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की जा रही है। ...

DISCLAIMER

इस पेज पर शेयर की गयी सभी जानकारियां संबंधित पत्र/ पत्रिकाओं, वैज्ञानिको, संस्थाओ तथा अन्य व्यक्तियों की बौध्दिक सम्पदा है, इस पेज का उद्देश्य विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के प्रति पाठको में रूचि उत्पन्न करना और ज्ञान का प्रसार करना मात्र है |


8

Science Coaching

There are lot of students who .....Read More

5

Skill Forum

Internet of Things (IoT) : IoT revolution, which will include autonomous cars, robots in factories, smart cities, virtual reality immersive experienc.....Read More

6

Science Mgazine

.....Read More